लोकसभा चुनाव 2019 में 5 बड़ी जीत

लोकसभा चुनाव 2019 कई मायने में बहुत खास रहा है देशभर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ऐतिहासिक जीत का जश्न चल रहा है, वहीं विरोधियों में इस बात की हलचल तेज हो रही है कि आगे नरेंद्र मोदी का मुकाबला किस प्रकार किया जाए? जहां एक तरफ राष्ट्रवाद की लहर पर सवार नरेंद्र मोदी की पार्टी "हिंदू गौरव" "नया भारत" के मुद्दे पर लोकसभा चुनाव में प्रचण्ड  जीत हासिल कर इतिहास रच चुकी है।
मोदी की इस सुनामी में पिछली बार 2014 की तरह कांग्रेस कुछ खासा कमाल नहीं दिखा पाई। कांग्रेस ने इस बार भी निराशाजनक प्रदर्शन किया है और वह 100 सीटें तक लोकसभा में नहीं निकाल पाई।
कई राज्यों में कांग्रेस का खाता तक नहीं खुला है यह पूर्णतया 2014 की तरह ही था।2014 में भी कांग्रेस का कई  राज्यों में खाता भी नहीं खुला था।

अगर हम टॉप 10 बड़े अंतर से जीतने वाले प्रत्याशियों की बात करे तो इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शामिल नहीं हैं।
अमित शाह 7वे स्थान पर आते हैं।
 यहाँ हम आपको ऐसे 5 बड़े मार्जन से जीतने वाले कैंडिडेट के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने अपने विरोधियों को 5 लाख  या उससे ज्यादा के अंतर से चुनावी दंगल में पस्त किया है



लोकसभा चुनाव 2019 में 5 बड़ी जीत/bjp-c.r. patil
चंद्रकांत रघुनाथ पाटिल 


 गुजरात की नवसारी सीट से लोकसभा चुनाव लड़ने वाले बीजेपी के प्रत्याशी सीआर पाटील (चंद्रकांत रघुनाथ पाटील) 6.89  लाख के अंतर से जीत हासिल की है! यह इन लोकसभा चुनावों में हुई जीत में सबसे बड़ी जीत है हालांकि वह 2014 लोकसभा चुनाव में गोपीनाथ मुंडे की बेटी प्रीतम मुंडे ने 6.96 लाख वोटों से जीत हासिल की थी का रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाए।
चंद्रकांत रघुनाथ पाटील 2014 में भी नवसारी से 5 लाख से ज्यादा वोटों से जीते थे।



लोकसभा चुनाव 2019 में 5 बड़ी जीत/bjp-amit-shah
image source fb


इस बार भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने भी लोकसभा चुनाव में किस्मत को आजमाया और गांधीनगर से लालकृष्ण आडवाणी का टिकट कटने के बाद गांधीनगर लोकसभा सीट से चुनाव लड़े। इस चुनाव में भाजपा की जीत गांधीनगर से तय मानी जा रही थी हमेशा से यह अनुमान लगाया जा रहा था। इस चुनाव में तमाम मीडिया न्यूज़ चैनल अमित शाह से किसी भी प्रकार का कोई कंपटीशन के बारे में बात नहीं थी यहां पर चर्चाएं यह चल रही थी कि यहां पर भाजपा कितने वोटों से  जीतेगी।
भाजपा ने यहां का लक्ष्य 7 लाख रखा था अपने चुनाव प्रचार में वह कहते थे कि भाजपा यहां से 7 लाख वोट से विजय होगी।
भाजपा की यहां से बड़ी जीत हुई है पर 7 लाख तो नहीं पर गांधीनगर से अमित शाह 5 लाख से ज्यादा वोटों से जीत हासिल की यह पिछली बार हुई लाल कृष्ण आडवाणी  बड़ी है।


लोकसभा चुनाव 2019 में 5 बड़ी जीत/bjp-suratmp
Darshana jardosh 


Darshana jardosh गुजरात सूरत से बीजेपी कि सांसद उम्मीदवार एवं सांसद ने 2019 लोकसभा चुनाव में बड़ी जीत हासिल की है उन्होंने कांग्रेस के अशोक पटेल को 548230 वोटों से हराया जो कि देश में बड़े मार्जन की जीत है 2014 में भी इन्होंने 5 लाख से ज्यादा वोटों से जीत हासिल की थी 2014 में इन्होंने निशाद देसाई कांग्रेस के प्रत्याशी को हराया था।
यहां हम आपको बताते चलें स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन के अगुवा रहे मोरारजी देसाई आपातकाल के दौरान इंदिरा गांधी के खिलाफ मुखर होकर विरोध करने वाले इसी सीट का नेतृत्व कर रहे थे।



लोकसभा चुनाव 2019 में 5 बड़ी जीत/bjp-ranjan-bhatt
रंजनबेन भट्ट 

गुजरात के वडोदरा लोकसभा सीट से बीजेपी की कैंडिडेट रंजनबेन भट्ट  गुजरात के 26 निर्वाचन लोकसभा क्षेत्रों में से एक वडोदरा लोकसभा सीट पर बीजेपी की ranjan Bhatt ने बड़ी जीत हासिल की है। रंजन भट्ट ने कांग्रेस के प्रशांत पटेल को 5 लाख से ज्यादा वोटों से शिकस्त दी है यह उनकी देश में हुए लोकसभा चुनावों में बड़ी जीत में से एक है।
2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी वडोदरा से लोकसभा चुनाव लड़ा था और लंबे मार्जन से जीत हासिल की थी बाद में उन्होंने बनारस को अपना संसदीय क्षेत्र चुना।




लोकसभा चुनाव 2019 में 5 बड़ी जीत/ Prime Minister of India

नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री ने अपने संसदीय क्षेत्र बनारस से चुनाव लड़ा और एक बार फिर इतिहास रचते हुए बड़ी जीत हासिल की।
देश की सांस्कृतिक राजधानी काशी नगरी में गुरुवार को इतिहास रचा गया दूसरी बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खाते में आई काशी की सीट पूरी दुनिया की निगाहें इस सीट पर सबसे ज्यादा थी। पिछले 5 साल के अंदर बनारस को संवारने के साथ साथ शिक्षा चिकित्सा बाबा विश्वनाथ कॉरिडोर और अन्य हुए कार्यों पर जनता ने मोहर मोहर लगा दी।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बनारस से 4.79 लाख  मतों से जीत हासिल की।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कुल 63.62%  वोट प्राप्त हुए इसमें जीत हार का अंतर 45.2% रहा।
घोषित परिणामों के अनुसार नरेंद्र मोदी को 674664 मत मिले जबकि उनके निकटतम प्रतिद्वंदी समाजवादी पार्टी की शालिनी यादव को 195159 मत मिले। इसके अलावा कांग्रेस के अजय रॉय रहे जिन्हें 152548 मतों से ही संतोष करना पड़ा।
बनारस से नरेंद्र मोदी के विरुद्ध 26 प्रत्याशियों ने चुनाव लड़ा था इनमें से एक मात्र समाजवादी पार्टी की शालिनी यादव ही अपनी जमानत जप्त होने से बचा सकी बाकी सभी प्रत्याशियों की जमानत जप्त हो गई।

Comments

Popular posts from this blog

इतिहास की सबसे महानतम लड़ाई में से एक 21 सिखों द्वारा 10000 अफगानी ओं के छक्के छुड़ा देने की कहानी

दुनिया का सबसे बड़ा हिंदू मंदिर Angkor wat!

Top 10 educated leaders in india