About Icc world cup trophy/ICC क्रिकेट वर्ल्ड कप की ट्रॉफी के बारे में रोचक तथ्य।

Share:
Icc world cup trophy/cricket world cup trophy
Icc world cup trophy

आईसीसी वर्ल्ड कप ट्रॉफी का इतिहास काफी दिलचस्प और रोमांच से भरा हुआ रहा है। वर्ष 1975 से लेकर 1996 तक खेले गए शुरुआती 6 संस्करणों तक टूर्नामेंट को आईसीसी वर्ल्ड कप नहीं कहा जाता था। बल्कि जो कंपनी टूर्नामेंट की प्रायोजक होती थी, उसका नाम ट्रॉफी के साथ जोड़ा जाता था। इस तरह शुरुआत के छह संस्करण में ट्रॉफी का नाम और उसकी शक्ल काफी अलग रही।
क्रिकेट विश्व कप के शुरुआती 6 संस्करणों में ट्रॉफी के नाम इस प्रकार थे।
प्रूडेंशियल कप (1975), प्रूडेंशियल कप  (1979), प्रूडेंशियल कप (1983), रिलायंस ट्रॉफी  (1987), बेंसन-हेसेज कप (1992), विल्स ट्रॉफी (1996), आईसीसी ट्रॉफी (1999 से लेकर अब तक)।




Icc world cup trophy/cricket world cup trophy-dhoni
Icc world cup trophy&m.s dhoni 


वर्ल्ड कप की शुरुआत साल 1975 में हुई, पहली बार 1975 में वेस्टइंडीज ने जीत, 1979 में भी वेस्टइंडीज फिर 1983 में भारतीय टीम विजेता बनी, उन्हें एक ही तरह की ट्रॉफी दी गई। उस वक्त इन ट्रॉफी का डिजाइन में कोई बदलाव नहीं किया गया था। आयोजित हुए तीन वर्ल्ड कप के स्पॉन्सर प्रूडेंशियल पॉलिसी थे। जिसके बाद स्पॉन्सर बदले तो ट्रॉफी के डिजाइन में बदलाव किया गया।
इंग्लैंड की मेजबानी में खेले गए 1999 वर्ल्ड कप से ट्रॉफी को एक नया रूप और नाम दिया गया। इसके बाद से इसे आईसीसी ट्रॉफी का नाम मिला और इसका स्वरूप भी एक जैसा रहा।



Icc world cup trophy/cricket world cup trophy-virat-kohli
Icc world cup trophy&virat kohli 


इतिहास की सबसे महंगी रिलायंस ट्रॉफी

आईसीसी वर्ल्ड कप के इतिहास में सबसे महंगी ट्रॉफी रिलायंस के प्रायोजन में खेले गए टूर्नामेंट की रही। 1987 की रिलायंस ट्रॉफी का निर्माण जयपुर में किया गया था। यह दुनिया की सबसे महंगी सोने की ट्रॉफी मानी जाती है इस बार यह ट्रॉफी ऑस्ट्रेलिया ने जीती थी।
यहाँ हम आपको बताते चले की ऑस्ट्रेलिया ने अभी तक 5 icc ट्रॉफी को अपने नाम किया हैं।
ऑस्ट्रेलिया 5 बार विश्व कप जीत चुका हैं।



Icc world cup trophy/cricket world cup trophy
Icc world cup trophy/cricket world cup trophy


आईसीसी विश्व कप ट्रॉफी की खास बाते 


आईसीसी ट्रॉफी को सोने और चांदी से बनाया गया है। ट्रॉफी के ऊपर का हिस्सा सोने का एक सुनहरा ग्लोब दिखाई देता है। इसे दो तरफ से चांदी से बने तीन स्तंभों से थामा गया है। चांदी से बने स्तंभ का डिजाइन विकेट और बेल्स के आकार का है। जो खेल की तीन विशेषताओं को दर्शाता है, जिसमें बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग शामिल है। ट्रॉफी का आधार मजबूत लकड़ी से बनाया गया है। ट्रॉफी को बनाने में सोने, चांदी और लकड़ी का प्रयोग किया गया है। इसकी ऊंचाई 60 सेंटीमीटर और 
कप ट्रॉफी का वजन करीब 11 किलो का होता है।
चांदी और सोने से तैयार वर्ल्ड कप की ट्रॉफी में  ट्रॉफी के बेस पर पूर्व विजेता टीमों के नाम भी उकेरे जाते हैं।


Icc world cup trophy/cricket world cup trophy
Icc world cup trophy

icc विजेताओ को नहीं देता असली ट्रॉफी

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल आईसीसी ने 1999 विश्व कप में पहली बार विजेता टीम को अपनी असली ट्रॉफी दी।

दिलचस्प है कि आईसीसी वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम को असली ट्रॉफी नहीं दी जाती। विजेता टीम को ट्रॉफी की प्रतिकृति दी जाती है। असली ट्रॉफी आईसीसी के दुबई स्थित मुख्यालय में रखी हुई है।
आपको मालूम हो कि वर्ष 2011 में विजेता बनी भारतीय टीम को भी बाद में असली ट्रॉफी का प्रतिरूप ही दिया गया था। असली ट्रॉफी को आईसीसी के मुख्यालय शारजाह में संभालकर रखा जाता है। वर्ल्ड कप की ट्रॉफी में सोने और चांदी का काम किया जाता है।

No comments